वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए

Pankaj Pandey
5 Min Read

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए: वास्तु शास्त्र के अनुसार आपके घर का मुख्य द्वार घर में सकारात्म्क और नकारात्मक ऊर्जा आने का सबसे प्रमुख स्त्रोत होता है। अगर आप वास्तु शास्त्र को ध्यान में देते हुए घर के मुख्य द्वार को बनाते हो, तो आपके घरमे हमेशा सकारात्मक ऊर्जा आती रहेगी, पर अगर आप घर का मुख्य द्वार बनाते वक्त वास्तु शास्त्र का ध्यान नहीं देते तो आपके घर मे नकारात्मक ऊर्जा आने लगती है। तो चलिए साथियों इस आर्टिकल में आगे बढ़ते है और वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का मुख्य द्वार कैसा होना चाहिए इसके बारे में जानते है।

WhatsApp Channel Join Now

घर का मुख्य द्वार कौन सी दिशा में होना चाहिए

वास्तु शास्त्र के अनुसार आपके घर का मुख्य द्वार किस दिशा में होना चाहिए यह काफी मायने रखता है। चलिए हम जानते यही की आपके घर का मुख्य द्वार किस दिशा में होना चाहिए।

WhatsApp Channel Join Now

यह भी जरूर पढ़िए:- पीतल का कछुआ कहाँ रखें

  • आपके घर का मुख्य द्वार हमेशा उत्तर, पूर्व या पश्चिम दिशा में होना चाहिए। इन दिशाओ में मुख्य द्वार का होना काफी शुभ माना जाता है।
  • इस बात का हमेशा ध्यान दे की आपके घर का मुख्या द्वार कभी भी दक्षिण दिशा में नहीं होना चाहिए।
  • और आपके घर का मुख्य द्वार कभी भी आपके घर के केंद्र में नहीं होना चाहिए।

घर के मुख्य द्वार का आकार कैसा होना चाहिए

WhatsApp Channel Join Now

वास्तु शास्त्र में आपके घर के मुख्य द्वार का आकर कैसा हे यह भी काफी मायने रखता है।

  • आपके घर के मुख्य द्वार का आकर हमेशा घर के अन्य दरवाजों से बड़ा होना चाहिए।
  • आपके मुख्य द्वार का आकर आयताकार और वर्गाकार होना जरुरी है।
  • आपके घर के मुख्या द्वार को दो भागों में विभाजित नहीं किया जाना चाहिए।

यह भी जरूर पढ़िए:- दक्षिण दिशा में क्या रखना चाहिए

घर के मुख्य द्वार का रंग कैसा होना चाहिए

    आपने इस बात पर काफी गौर किया होगा की लोग अपने घरके मुख्या द्वार का रंग उनके मन के मुताबित रख देते है, पर इस बात को हमेशा याद रखना की घर के मुख्य द्वार का रंग हमेशा वास्तु शास्त्र के अनुसार होना चाहिए।

    • आपके घर के मुख्य द्वार को लाल, पिले या नारंगी रंग से रंगना वास्तु शास्त्र के अनुसार शुभ माना जाता है।
    • इस बात को ध्यान में रखना की मुख्य द्वार को काले रंग से रंगना काफी अशुभ साबित होता है।

    घर के मुख्य द्वार की सजावट कैसी होने चाहिए

    घर के मुख्य द्वार को अच्छे से सजाना काफी शुभ साबित होता है, अगर आपने आपके घरके मुख्य द्वार को अच्छे से सजाकर रखा तो वास्तु शास्त्र के अनुसार इसे काफी शुभ माना जाता है।

    • आप मुख्य द्वार पर स्वास्तिक ॐ या अन्य तरह की सजावटों से सजा सकते हो।
    • इसके साथ आप मुख्य द्वार पर दिप या मोम जलाकर मुख्य द्वार को सजा सकते हो।

    घर के मुख्य द्वार के सामने क्या नहीं होना चाहिए

    जैसे की मुख्य द्वार को सजाने के लिए हम उसके सामने कुछ न कुछ चीजे रखते है। कुछ इसी तरह वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ चीजे मुख्य द्वार के सामने रखना अशुभ होता है।

    • आपके घर के मुख्य द्वार के सामने किसी तरह का कूड़ेदान या फिर किसी तरह का शौचालय नहीं होना चाहिये।
    • आपके मुख्य द्वार के सामने का परिसर हमेशा साफ़ सूत्रा होना चाहिए।
    • आपके मुख्य द्वार के सामने किसी तरह का पेड़ या फिर किसी तरह का खंबा भी नहीं होना चाहिए।
    • आपके मुख्य द्वार के सामने अगर आपने पानी का नल लगवाया है तो उसे तुरंत ही वह से हटवा दे। क्युकी मुख्या द्वार के सामने पानी का नल होना अशुभ माना जाता है।
    • इस बात का भी ध्यान दे की मुख्य द्वार के सामने किसी तरह की सीढ़ी भी नहीं है। मुख्य द्वार के सामने सीढी का होना भी एक अशुभ संकेत होता है।

    साथियों यह थे मुख्य द्वार से जुड़े कुछ वास्तु शास्त्र के नियम, अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है तो कमेंट करके जरूर बताना।

    pankaj-profile-image

    दोस्तों मेरा नाम पंकज पांडे है। में एक आर्ट्स का स्टूडेंट हूँ। मेने मेरे पिताजी से एस्ट्रोलॉजी, भविष्यवाणी जैसी चीजे सीखी है। और इस न्यूज़ वेबसाइट पर में राशिफल और वास्तु शास्त्र से जुड़े आर्टिकल लिखता हूँ। मुझे इस तरह की जानकारी लोगों के साथ शेयर करना काफी अच्छा लगता है।

    Share This Article
    1 Comment