क्या है प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना? कौन उठा सकता है इसका लाभ

Ganesh Rathod
11 Min Read

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना: भारत में बेरोजगारी और कौशल की कमी एक गंभीर समस्या है जो देश के युवाओं के भविष्य को प्रभावित कर रही है। इस समस्या का समाधान करने के लिए भारत सरकार ने जुलाई 2015 में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) की शुरुआत की। 

यह एक महत्वाकांक्षी योजना है जिसका उद्देश्य 2020 तक एक करोड़ युवाओं को रोजगार और उद्यमशीलता के लिए प्रशिक्षित और तैयार करना था PMKVY शिक्षित और अशिक्षित दोनों युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करती है, जिससे उन्हें उद्योग-प्रासंगिक कौशल प्राप्त करने और उनकी रोजगार क्षमता बढ़ाने में सक्षम बनाया जाता है। यह योजना आतिथ्य, दूरसंचार, कपड़ा, सुरक्षा सेवाओं, खुदरा, बिजली उद्योगों और अन्य जैसे विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्रदान करती है। 

प्रशिक्षण अवधि पाठ्यक्रम के आधार पर 15 दिनों से 9 महीने तक होती है और प्रशिक्षण पूरा होने पर उम्मीदवारों को उद्योग द्वारा मान्यता प्राप्त प्रमाण पत्र मिलता है। पीएमकेवीवाई की वेबसाइट के आंकड़ों के अनुसार, कुल 2,76,05,800 पंजीकृत उम्मीदवार हैं, जिनमें से 67,943 वर्तमान में प्रशिक्षण ले रहे हैं, 26,9263 ने अपना प्रशिक्षण पूरा कर लिया है, 2,15,25,000 ने अपना मूल्यांकन पूरा कर लिया है, और 20,10,259 पास हो गए हैं। ये आंकड़े पूरे देश में बड़ी संख्या में युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करने में PMKVY के महत्वपूर्ण प्रभाव को दर्शाते हैं।

लेकिन क्या यह योजना वाकई में भारत के युवाओं के लिए एक गेम-चेंजर साबित हो सकती है? क्या यह उन्हें गरीबी और बेरोजगारी के चक्र से बाहर निकालने में मदद कर सकती है? आइए इस लेख में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की सफलता, चुनौतियों और भविष्य की संभावनाओं पर एक गहरी नजर डालते हैं।

Overview Table for Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana

योजना का नामप्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 
लाभार्थी राज्यभारत के सभी राज्य
किसने शुरू कियाभारत सरकार ने
योजना कब शुरू हुई2015 में
लाभ किसे मिलेगाअभ्यर्थियों को
पात्रता मानदंड10वीं और 12वीं पास युवाओं के लिये

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना क्या है? (What is Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana?)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY), 2015 में भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक कौशल विकास पहल है, जिसका उद्देश्य युवाओं को विभिन्न कौशल में मुफ्त प्रशिक्षण प्रदान करना और रोजगार के अवसर उत्पन्न करना है।

इसे भी जरूर पढ़िए: Mukhyamantri Sikho Kamao Yojana 2024

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का उद्देश्य क्या है? (Objective of Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana?)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) का मुख्य उद्देश्य भारतीय श्रमिकों को पहचान, मानकीकरण, और प्रशिक्षण प्रदान करना है, ताकि उनकी रोजगारी और वैश्विक बाजार में प्रतिस्पर्धा में सुधार किया जा सके। यह योजना प्रशिक्षणार्थियों को प्रोत्साहित करने के लिए धनराशि का पुरस्कार प्रदान करती है, जिससे वे कौशल प्रशिक्षण लेकर मान्यता प्राप्त कर सकें। इस योजना का लक्ष्य था कि 2016-20 के बीच 10 मिलियन भारतीय युवाओं को प्रशिक्षित किया जाए। PMKVY निर्माण, खुदरा, और स्वास्थ्य सेवा जैसे क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्रदान करती है, जहां कुशल श्रमिकों की उच्च मांग होती है। यह योजना स्कूल से छूट जाने वाले, महिलाओं, और अन्य हाशिये की समुदायों को प्रशिक्षण प्रदान करने का भी उद्देश्य रखती है।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना पात्रता क्या है? (What is Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana Eligibility?)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) की पात्रता के लिए निम्नलिखित 8 बिंदु हैं:

  • आयु सीमा: 18 से 35 वर्ष के बीच के उम्मीदवार पात्र होते हैं।
  • शैक्षिक योग्यता: न्यूनतम शैक्षिक योग्यता की कोई बाध्यता नहीं है, लेकिन कुछ कोर्सेस के लिए 10वीं या 12वीं पास होना आवश्यक हो सकता है।
  • राष्ट्रीयता: उम्मीदवार भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • आर्थिक स्थिति: विशेष रूप से कमजोर और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जाती है।
  • पहले से कोई सरकारी स्कीम: उम्मीदवार किसी अन्य सरकारी योजना के तहत पहले से प्रशिक्षित न हो।
  • पहले से कोई रोजगार: उम्मीदवार किसी भी प्रकार के सरकारी या निजी रोजगार में न हो।
  • आधार कार्ड: उम्मीदवार के पास आधार कार्ड होना आवश्यक है।
  • स्थायी पता: उम्मीदवार के पास स्थायी पते का प्रमाण होना चाहिए।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़ (What are the documents required for Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana?)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) के लिए आवश्यक दस्तावेज निम्नलिखित हैं:

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • शैक्षिक योग्यता प्रमाणपत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लाभ क्या हैं? (Benefits of Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana?)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) एक प्रमुख सरकारी योजना है जिसका उद्देश्य युवाओं को विभिन्न उद्योगों में कौशल प्रशिक्षण प्रदान कर उन्हें रोजगार के योग्य बनाना है। इस योजना के तहत लाभार्थियों को निम्नलिखित लाभ प्राप्त होते हैं:

  • व्यावसायिक प्रशिक्षण: युवाओं को उद्योग की आवश्यकताओं के अनुसार आधुनिक और व्यावसायिक प्रशिक्षण मिलता है, जिससे उनकी रोजगार क्षमता में वृद्धि होती है।
  • सरकारी प्रमाणपत्र: सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूरा करने पर उम्मीदवारों को एक मान्यता प्राप्त प्रमाणपत्र प्रदान किया जाता है, जो नौकरी खोजने में सहायक होता है।
  • वित्तीय सहायता: प्रशिक्षण शुल्क सरकार द्वारा वहन किया जाता है, जिससे आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के युवा भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • रोजगार के अवसर: प्रशिक्षित युवाओं के लिए रोजगार मेलों का आयोजन किया जाता है, जहां वे विभिन्न कंपनियों के साथ सीधे संपर्क कर सकते हैं।
  • स्वरोजगार: प्रशिक्षण के माध्यम से प्राप्त कौशल से युवा स्वयं का व्यवसाय या उद्यम शुरू कर सकते हैं।
  • लाइफ स्किल्स प्रशिक्षण: तकनीकी कौशल के साथ-साथ सॉफ्ट स्किल्स, जैसे संचार, टीमवर्क, और प्रोफेशनल एथिक्स, पर भी जोर दिया जाता है।
  • विभिन्न क्षेत्र: योजना के तहत विभिन्न सेक्टर्स में प्रशिक्षण उपलब्ध है, जिससे उम्मीदवार अपनी रुचि और योग्यता के अनुसार क्षेत्र का चयन कर सकते हैं।
  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय अवसर: प्रमाणपत्र की मान्यता राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर होती है, जिससे विदेशों में भी रोजगार के अवसर मिल सकते हैं।

इन लाभों के माध्यम से PMKVY युवाओं को सशक्त बनाता है और देश की आर्थिक प्रगति में महत्वपूर्ण योगदान देता है।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लिए आवेदन कैसे करें? (How to apply for Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana?)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया निम्नलिखित बिंदुओं में समझाई जा सकती है:

  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं: NPMKVY की आधिकारिक वेबसाइट (http://pmkvyofficial.org ) पर जाएं।
  • रजिस्ट्रेशन करें: होमपेज पर “Candidate Registration” लिंक पर क्लिक करें। आवश्यक जानकारी जैसे नाम, संपर्क नंबर, ईमेल, आदि भरें और रजिस्ट्रेशन फॉर्म सबमिट करें।
  • प्रोफाइल बनाएं: रजिस्ट्रेशन के बाद लॉगिन करें और अपनी प्रोफाइल बनाएं। व्यक्तिगत जानकारी, शैक्षिक विवरण, और अन्य आवश्यक जानकारी अपडेट करें।
  • ट्रेनिंग सेंटर का चयन करें: वेबसाइट पर उपलब्ध ट्रेनिंग सेंटर्स की सूची से अपने नजदीकी और इच्छित ट्रेनिंग सेंटर का चयन करें। कोर्स और ट्रेनिंग सेंटर की जानकारी के लिए “Find a Training Center” सेक्शन देखें।
  • दस्तावेज़ अपलोड करें: आवश्यक दस्तावेज़ (आधार कार्ड, पैन कार्ड, शैक्षिक प्रमाणपत्र, पासपोर्ट साइज फोटो, बैंक खाता विवरण, निवास प्रमाण पत्र, आदि) स्कैन करके अपलोड करें।
  • कोर्स का चयन करें: उपलब्ध कोर्सों की सूची से अपनी रुचि और योग्यता के अनुसार कोर्स का चयन करें। कोर्स की अवधि, प्रशिक्षण की प्रकृति, और अन्य विवरण को ध्यान में रखें।
  • आवेदन सबमिट करें: सभी जानकारी और दस्तावेज़ों की जांच करने के बाद आवेदन फॉर्म सबमिट करें। आवेदन की पुष्टि के लिए आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिलेगा।
  • प्रवेश परीक्षा (यदि आवश्यक हो: कुछ कोर्सों के लिए प्रवेश परीक्षा या साक्षात्कार हो सकता है। चयन प्रक्रिया के बारे में जानकारी प्राप्त करें और परीक्षा की तैयारी करें।
  • प्रशिक्षण प्रारंभ: चयनित होने पर आपको ट्रेनिंग सेंटर द्वारा सूचित किया जाएगा। निर्धारित तिथि पर ट्रेनिंग सेंटर पर जाकर प्रशिक्षण प्रारंभ करें।
  • प्रमाणपत्र प्राप्त करें: प्रशिक्षण सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद आपको सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त प्रमाणपत्र प्रदान किया जाएगा।
  • इन बिंदुओं का पालन करके आप PMKVY के तहत सफलतापूर्वक आवेदन कर सकते हैं और प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं।

निष्कर्ष

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है जो युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करके उन्हें रोजगार के लिए तैयार करती है। यह योजना युवाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने, बेरोजगारी कम करने और भारत को एक कुशल कार्यबल बनाने में मदद कर रही है।

Frequently Asked Questions

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) क्या है? 

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना भारत सरकार की एक प्रमुख कौशल विकास योजना है जिसका उद्देश्य भारतीय युवाओं को रोजगार और आजीविका के लिए परिणाम आधारित कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना है। यह योजना 15 जुलाई 2015 को शुरू भारत सरकार द्वाराकी गई थी।

PMKVY योजना की शुरुआत क्यों की गई?

हर साल 1.3 करोड़ से ज्यादा भारतीय काम करने की उम्र में प्रवेश करते हैं, लेकिन देश की कुल प्रशिक्षण क्षमता केवल 30 लाख है। इस खाई को पाटने और देश की युवा जनसंख्या की क्षमता को साकार करने के लिए PMKVY योजना शुरू की गई।

PMKVY योजना का मुख्य फोकस क्या है? 

PMKVY योजना का मुख्य फोकस अनौपचारिक क्षेत्र में उत्पादकता बढ़ाना है, जो कुशल कार्यबल का एक बड़ा हिस्सा है। यह एनएसक्यूएफ मानकों वाले उद्यमों को प्रशिक्षित कुशल जनशक्ति का भंडार उपलब्ध कराता है।

ganesh profile

हेलो गाइस मेरा नाम गणेश राठोड है। मुझे टेक्नोलॉजी में बोहत रूचि है, और मुझे टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी हासिल करना और लोगो के साथ ऐसी जानकारी शेयर करना काफी अच्छा लगता है। खबरे दिन भर के माध्यम से में टेक्नोलॉजी और ट्रेडिंग से जुडी जानकारी आपके साथ शेयर करूँगा।

WhatsApp Channel Join Now
Share This Article
Leave a comment