Rudrankksh Patil Biography: एक युवा भारतीय शूटर जिसने इतिहास रच दिया, जानें उनकी प्रेरणादायक कहानी

Pankaj Pandey
7 Min Read

Rudrankksh Patil Biography: भारतीय शूटर रुद्रांक्क्ष पाटिल ने शुक्रवार, 14 अक्तूबर को काहिरा में आयोजित शूटिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया था। उन्होंने 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में चैंपियन का खिताब अपने नाम किया। रुद्रांक्क्ष पाटिल महान शूटर अभिनव बिंद्रा के बाद यह उपलब्धि हासिल करने वाले दूसरे भारतीय निशानेबाज बन गए हैं। इस जीत के साथ ही रुद्रांक्क्ष पाटिल ने पेरिस ओलंपिक 2024 के लिए भी अपना स्थान सुनिश्चित कर लिया है। यह भारत का दूसरा ओलंपिक कोटा है।

WhatsApp Channel Join Now

18 वर्षीय रुद्रांक्क्ष पाटिल ने फाइनल मुकाबले में इटली के डानिलो डेनिस सोलाजो को 17-13 से हराया। फाइनल में एक समय वह पीछे चल रहे थे, लेकिन उन्होंने शानदार वापसी करते हुए मुकाबला जीत लिया। इस साल वर्ल्ड चैंपियनशिप के जरिए ओलंपिक के लिए चार कोटा उपलब्ध हैं। भारत ने हाल ही में क्रोएशिया में आयोजित शॉटगन विश्व चैंपियनशिप में पुरुष ट्रैप स्पर्धा में भौनीश मेंदीरत्ता के माध्यम से अपना पहला कोटा हासिल किया था। आइये इस लेख में आगे बढ़ते है और रुद्रांक्क्ष पाटिल की जीवनी जानते है।

श्रेणीविवरण
पूरा नामरुद्रांक्क्ष पाटिल
जन्म तिथि16 दिसंबर 2003
जन्म स्थानठाणे, महाराष्ट्र
माता-पिताबालासाहेब पाटिल (पिता), हेमांगीनी पाटिल (माता)
कोचअजित पाटिल
प्रमुख उपलब्धियां7 स्वर्ण, 1 रजत, 2 कांस्य पदक
प्रमुख स्पर्धाएँवर्ल्ड चैंपियनशिप, ISSF जूनियर कप, वर्ल्ड कप, वर्ल्ड कप फाइनल
2022 काहिरा वर्ल्ड चैंपियनशिपपुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में प्रथम स्थान, पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में प्रथम स्थान
2022 राष्ट्रपति कपकाहिरा में जीत
2022 एशियाई चैंपियनशिपदाएगू में पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में प्रथम स्थान
प्रारंभिक रुचियाँशतरंज, फुटबॉल
ओलंपिक कोटापेरिस 2024
इंस्टाग्राम आईडीClick Me

रुद्रांक्क्ष पाटिल: पहली वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक और ओलंपिक कोटा

रुद्रांक्क्ष पाटिल ने पहली बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लिया और शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीता। फाइनल मुकाबले में एक समय वह 4-10 से पीछे चल रहे थे। इटली के निशानेबाज ने ज्यादातर समय बढ़त बनाए रखी, लेकिन रुद्रांक्क्ष ने अंतिम क्षणों में जोरदार वापसी करते हुए जीत हासिल की। 

रुद्रांक्क्ष ने क्वालिफिकेशन राउंड में शीर्ष स्थान प्राप्त किया और रैंकिंग राउंड में दूसरा स्थान हासिल करने के बाद ओलंपिक कोटा भी सुनिश्चित कर लिया। बीजिंग ओलंपिक चैंपियन अभिनव बिंद्रा ने 2006 में क्रोएशिया के जाग्रेब में 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में विश्व चैंपियनशिप का स्वर्ण पदक जीता था, और अब रुद्रांक्क्ष पाटिल ने भी इस उपलब्धि को दोहराया है।

WhatsApp Channel Join Now

कौन है रुद्रांक्क्ष पाटिल? 

16 दिसंबर 2003 को ठाणे, महाराष्ट्र में जन्मे रुद्रांक्क्ष पाटिल ने खेल निशानेबाजी की दुनिया में अपनी एक खास पहचान बनाई है। उनके कोच अजित पाटिल ने उनके विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रुद्रांक्क्ष के माता-पिता, बालासाहेब पाटिल और हेमांगीनी पाटिल, उनके शूटिंग में रुचि के पीछे मुख्य प्रेरणास्रोत रहे हैं।

दिसंबर 2022 में, रुद्रांक्क्ष ने 10 मीटर एयर राइफल श्रेणी में शीर्ष स्थान प्राप्त किया, जो उनकी असाधारण कौशल और दृढ़ संकल्प का प्रमाण है। 2022 ISSF वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप में उनके शानदार प्रदर्शन ने उन्हें पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए कोटा दिलाया।

रुद्रांक्क्ष पाटिल: भारतीय निशानेबाजी का उभरता सितारा

अपने करियर के दौरान, रुद्रांक्क्ष पाटिल ने 7 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य पदक जीते हैं। उन्होंने वर्ल्ड चैंपियनशिप, ISSF जूनियर कप, वर्ल्ड कप, और वर्ल्ड कप फाइनल जैसी प्रतिष्ठित निशानेबाजी प्रतियोगिताओं में सक्रिय रूप से भाग लिया है।

WhatsApp Channel Join Now

रुद्रांक्क्ष पाटिल की उपलब्धियां

2022 काहिरा वर्ल्ड चैंपियनशिप में, रुद्रांक्क्ष ने पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा और पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में प्रथम स्थान प्राप्त कर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। उनकी असाधारण क्षमता 2022 में काहिरा में आयोजित राष्ट्रपति कप में भी दिखाई दी, जहाँ उन्होंने जीत हासिल की।

2022 एशियाई चैंपियनशिप में, जो दाएगू में आयोजित हुई थी, रुद्रांक्क्ष ने पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल टीम स्पर्धा में फिर से प्रथम स्थान प्राप्त किया। इन अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में उनकी उपलब्धियों ने उन्हें खेल निशानेबाजी की दुनिया में एक उभरते सितारे के रूप में स्थापित किया है।

शूटिंग में रुद्रांक्क्ष की यात्रा

रुद्रांक्क्ष की शूटिंग में यात्रा की शुरुआत तब हुई जब उन्होंने पहले शतरंज और फुटबॉल में अपनी किस्मत आजमाई थी। प्रारंभ में, उन्होंने शूटिंग में घंटों तक स्थिर खड़े रहने के विचार को उबाऊ पाया। हालांकि, उनकी मेहनत और समर्पण ने उन्हें एक कुशल निशानेबाज बना दिया, जो अब अपने देश का गर्व के साथ प्रतिनिधित्व करते हैं और उनके पास पदकों का संग्रह है।

एशियाई खेलों में सफलता

हाल ही में एशियाई खेलों में रुद्रांक्क्ष पाटिल की सफलता ने न केवल भारत को गौरवान्वित किया, बल्कि उनकी क्षमता को भी उजागर किया कि वह खेल निशानेबाजी की दुनिया में आने वाले वर्षों में और भी ऊंचाइयों को छू सकते हैं।

Frequently Asked Questions

रुद्रांक्क्ष पाटिल कौन हैं?

रुद्रांक्क्ष पाटिल एक भारतीय निशानेबाज हैं जिन्होंने कई अंतर्राष्ट्रीय पदक जीते हैं।

रुद्रांक्क्ष पाटिल का जन्म कब और कहाँ हुआ था?

उनका जन्म 16 दिसंबर 2003 को ठाणे, महाराष्ट्र में हुआ था।

रुद्रांक्क्ष पाटिल के कोच कौन हैं?

उनके कोच अजित पाटिल हैं।

रुद्रांक्क्ष पाटिल ने कौन-कौन से प्रमुख पदक जीते हैं?

उन्होंने 7 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य पदक जीते हैं।

रुद्रांक्क्ष पाटिल ने कौन से ओलंपिक के लिए कोटा प्राप्त किया है?

उन्होंने पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए कोटा प्राप्त किया है।

pankaj-profile-image

दोस्तों मेरा नाम पंकज पांडे है। में एक आर्ट्स का स्टूडेंट हूँ। मेने मेरे पिताजी से एस्ट्रोलॉजी, भविष्यवाणी जैसी चीजे सीखी है। और इस न्यूज़ वेबसाइट पर में राशिफल और वास्तु शास्त्र से जुड़े आर्टिकल लिखता हूँ। मुझे इस तरह की जानकारी लोगों के साथ शेयर करना काफी अच्छा लगता है।

Share This Article